PVCHR initiative supported by EU

Reducing police torture against Muslim at Grass root level by engaging and strengthening Human Rights institutions in India

Monday, September 26, 2011

युवती का अपहरण एवम दुराचार की कोशिश तथा पुलिस द्दारा पीडिता की सहायता नही करने के समबन्ध में



---------- Forwarded message ----------
From: PVCHR MINORITY <minority.pvchr@gmail.com>
Date: 2011/9/26
Subject: युवती का अपहरण एवम दुराचार की कोशिश तथा पुलिस द्दारा पीडिता की सहायता नही करने के समबन्ध में
To: jrlawnhrc@hub.nic.in
Cc: akpnhrc@yahoo.com


सेवा मे,                                        27 सितम्बर 2011

      अध्यक्ष,

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग

   नई दिल्ली,

विषय:- युवती का अपहरण एवम दुराचार की कोशिश तथा पुलिस द्दारा पीडिता की सहायता नही करने के समबन्ध में

महोदय,

       मै, आपका ध्यान 5 सितम्बर 2011 की दैनिक जागरण की खबर  ' आबुलेन से सरेशाम  युवती अगवा' पर आकृष्ट करना चाहता हुँ। (अखबार की कतरन संलग्न)   

    लेख है कि, उत्तर प्रदेश के मेरठ के पल्लवपुरम फेस – 1 की परवीन पुत्री इस्लाम अहमद की शादी उत्तर प्रदेश के एटा जिले के थाना – जलेसर के गाँव गणेशपुर के निवासी डा0 इरफान के साथ हुई थी । शादी के बाद डा0 इरफान परवीन के साथ मारपीट करने लगा, परवीन द्दारा केस करने पर माननीय न्यायालय द्दारा डा0 इरफान को आदेश दिया गया कि वह परवीन को रुपये 5 लाख मुआवजा के रुप मे तथा रु0 15000 प्रति माह खर्च के लिये दिया जाय ।कोर्ट के आदेश से नाराज डा0 इरफान ने नफीस,शहनाज ,इरशाद तथा इदरिश के साथ परवीन का आबुलेन से अपहरण कर लिया और उसके साथ मारपीट और सामुहिक दुराचार करने की कोशिश की तथा बेहोशी की हालत मे सडक पर फेंक दिया । बेहोश परवीन को नौचन्दी थाना की पुलिस ने इक यात्री की सुचना पर आधी रात के बाद लोकप्रिय अस्पताल मे भर्ती कराया परंतु उच्च अधिकारियो को सुचना दी और न ही एफ.आई.आर. दर्ज किया । लालकुर्ती थाने मे शिकायत दर्ज कराने गये परवीन के पिता की शिकायत वँहा भी दर्ज नही की गयी ।

          महोदय, इस सम्बंध में निवेदन/मांग है माननीय न्यायालय के आदेश का पालन कराया जाय,पीडिता की रक्षा जाय तथा घटना दोषियो एवम पीडिता की शिकायत दर्ज नही करने वाले पुलिस कर्मियो पर कार्यवाही किया जाय।कृपया अतिशीध्र आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करे ।  

भवदीय

डा लेनिन

(महा सचिव)

मानवाधिकार जन निगरानि समिति

एस.ए. 4 /2 ए,दौलतपुर,वाराणसी
   मोबा.न0:+91-9935599333

pvchr.india@gmail.com

www.pvchr.org www.pvchr.net




Sunday, September 25, 2011

अल्पसंख्यक युवक को वाराणसी पुलिस द्दारा लगभग 48 धंटे तक गैर कानूनी तौर पर हिरासत मे रखने के सम्बन्ध मे



---------- Forwarded message ----------
From: PVCHR MINORITY <minority.pvchr@gmail.com>
Date: 2011/9/26
Subject: अल्पसंख्यक युवक को वाराणसी पुलिस द्दारा लगभग 48 धंटे तक गैर कानूनी तौर पर हिरासत मे रखने के सम्बन्ध मे
To: jrlawnhrc@hub.nic.in
Cc: akpnhrc@yahoo.com


सेवा मे,                                       26 सितम्बर 2011

      अध्यक्ष,

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग

   नई दिल्ली

विषय:- अल्पसंख्यक युवक को वाराणसी पुलिस द्दारा 48 धंटे तक गैर कानूनी तौर पर हिरासत मे रखने के सम्बन्ध मे

महोदय,

                 मै, आपका ध्यान 24 सितम्बर 2011 की दैनिक जागरण की खबर  ' होटल की खूबसुरती के चक्कर मे फंसा महफुज ' पर आकृष्ट करना चाहता हुँ।[i]  लिंक http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttarpradesh/4_1_8263744.html

               लेख है कि, महफूज अहमद पुत्र एकलाक अहमद निवासी रसूलाबाद, थाना कोतवाली फूलपुर, आजमगढ़ को वाराणसी (उत्तर प्रदेश ) की पुलिस ने गुरुवार को इक होटल का फोटो खिचने के कारण गिरफ्तार कर लिया। कैंट पुलिस थाना – वाराणसी ने उसे लगभग 48 घंटे तक हिरासत मे रखा है। उत्तर प्रदेश सरकार तत्तकाल महफूज का पता लगाए और जवाब दे कि महफूज को किस आधार पर 24 घंटे बीत जाने के बाद भी हिरासत में रखा गया है। क्योंकि माननीय उच्चचतम न्यायालय के दिशा निर्देशों का यह खुला उल्घंन है कि किसी व्यक्ति को दो दिनों से अवैध पुलिस हिरासत में रखा गया है।

          शिब्ली नेशनल कालेज, आजमगढ  के प्राक्टर अख्तर अली के अनुसार महफूज शिब्ली नेशनल कालेज का छात्र और चतुर्थ श्रेणी का अस्थाई कर्मचारी है। शिब्ली नेशनल कालेज में आडिट का काम चल रहा है। मुंबई से चार सदस्यी टीम आई है। चूंकी कालेज में अडिट फार्म नहीं था और न ही आजमगढ़ में उपलब्ध था इसलिए उसे 22 सितंबर 2011 को फार्म लेने के लिए वाराणसी भेजा गया था। आडिट टीम के सदस्य मोहम्मद शमीम खान ने बताया कि 22 सितंबर को दिन में चार बजे महफूज से बात की थी तो उसने कहा था कि वो तुरंत ही बस पकड़ने वाला है। परंतु जब साढ़े आठ बजे तक वो वापस नहीं लौटा तो मोहम्मद शमीम ने उसे दुबारा फोन किया परन्तु महफूज के बजाय फोन किसी और ने उठाया। जब फोन उठाने वाले को पता चला कि फोन करने वाला आडिट टीम का सदस्य है तो उसने फोन काट दिया। 23 सितंबर 2011 को साढ़े बारह बजे दिन में सादे कपड़ों में बाइक से दो व्यक्ति महफूज के गांव रसूलाबाद भी गए थे और उसके संबंध में गांव के कुछ लोगों से बातचीत भी की थी।

            लेख है कि,  महफुज की गिरफ्तारी और अवैध हिरासत का कारण पुलिस की साम्प्रदायिक सोच का नतीजा है । ऐसा पुलिस ने आजमगढ़ फोबिया से ग्रस्त होकर पहले भी किया है। सवाल है कि जैसा कि  मीडिया रिपोर्ट के अनुसार महफूज को किसी होटल का फोटो खींचने की वजह से कैंट पुलिस वाराणसी ने गिरफ्तार किया है तो महफुज के परिवार वालो को या तो नेशनल कालेज से फोन जाने के बाद कालेज प्रबन्धन को सुचित क्यो नही किया ? महफुज के मामले मे वाराणसी पुलिस द्दारा माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्दारा गिरफ्तारी के समय के लिये निर्धारित डी.के.बसु गाइडलाईन का पालन क्यो नही किया गया ? महफुज को  कैंट पुलिस,वाराणसी द्दारा न्यायालय में प्रस्तुत क्यो नही किया गया ?

 

              महोदय, इस सम्बंध में निवेदन/मांग है कि घटना के दोषी पुलिस अधिकारी एवम अन्य दोषियो पर कार्यवाही की जारी किया जाय एवम महफुज को मुआवजा जारी किया जाय ।कृपया अतिशीध्र आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करे जिससे की महफुज को न्याय मिल सके तथा उसके सम्मान की रक्षा हो सके ।  

भवदीय

डा लेनिन

(महा सचिव)

मानवाधिकार जन निगरानि समिति

एस.ए. 4 /2 ए,दौलतपुर,वाराणसी
   मोबा.न0:+91-9935599333

pvchr.india@gmail.com

www.pvchr.org

www.pvchr.net

 




Tuesday, September 20, 2011

Responce of NHRC

Kobra_Bibi

Response from NHRC

Response from NHRC in Amzad case

Saturday, September 17, 2011

Notice of NHRC in case of Afroz

NHRC notice in case of Muslim

Thursday, September 15, 2011

14 वर्षीय मरजीना के साथ सामुहिक दुराचार के सम्बन्ध में।

---------- Forwarded message ----------
From: PVCHR MINORITY <minority.pvchr@gmail.com>
Date: 2011/9/16
Subject: 14 वर्षीय मरजीना के साथ सामुहिक दुराचार के सम्बन्ध में।
To: jrlawnhrc@hub.nic.in
Cc: akpnhrc@yahoo.com



सेवा मे,                                                      15 सितम्बर 2011

      अध्यक्ष,

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग

   नई दिल्ली

विषय:-  14 वर्षीय मरजीना के साथ सामुहिक दुराचार के सम्बन्ध में

अभिनन्दन !!!

महोदय,

       मै, आपका ध्यान 14 मई 2011 के राष्ट्रीय सहारा की खबर 'युवती के साथ सामुहिक दुराचार ' पर आकृष्ट करना चाहता हुँ. (अखबार कतरन सलग्न).

    लेख है कि उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जिले मे करोलि थाने के नराणमपुर मे झोपडी मे अपने परिवार के साथ रहने वाली 14 वर्षीय मरजीना के साथ करेलाबाग के संजु निषाद, कमलेश निषाद और जय निषाद ने सामुहिक ब्लात्कार किया । पुलिस ने अभी किसी आरोपी को गिरफ्तार नही कर पायी है।

       महोदय, इस सम्बंध में निवेदन/मांग है दोषियो के सख्त कार्यवाही की जाय तथा पीडिता के परिवार को आर्थिक सहायता एवम मुफ्त कानूनी सहायता दी जाय। कृपया, अतिशीध्र आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करे ।  



                                                                                                                                    डा लेनिन

                                                                                            (महा सचिव)

                                                  मानवाधिकार जन निगरानि समिति

                                                   एस.ए. 4 /2 ए,दौलतपुर,वाराणसी
                                                         मोबा.न0:+91-9935599333

                                                                                                                 pvchr.india@gmail.com

                                                                                                                 www.pvchr.org

                                                                                                                      www.pvchr.net 









Rape against muslim

Monday, September 12, 2011

दिल्ली बिकास प्राधिकरण की लापरवाही से 8 वर्षीय तनवीर की मौत के समबन्ध में।



---------- Forwarded message ----------
From: PVCHR MINORITY <minority.pvchr@gmail.com>
Date: 2011/9/12
Subject: दिल्ली बिकास प्राधिकरण की लापरवाही से 8 वर्षीय तनवीर की मौत के समबन्ध में।
To: jrlawnhrc@hub.nic.in
Cc: akpnhrc@yahoo.com


सेवा मे,                                        12 सितम्बर 2011
      अध्यक्ष,
राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग,
   नई दिल्ली
विषय:- दिल्ली बिकास प्राधिकरण की लापरवाही से 8 वर्षीय तनवीर की मौत के समबन्ध में
महोदय,
       मै, आपका ध्यान 12 सितम्बर 2011 की टाइम्स आफ इंडिया की खबर ' 8-year-old drowns in pit filled with rainwater ' पर आकृष्ट करना चाहता हुँ । (अखबार की कतरन संलग्न)
    लेख है कि,  आर-64,मकान न0 – 20 ,ब्रम्हपुरी,दिल्ली मे रहने वाली शहनाज के 8 वर्षीय पुत्र तनवीर की गड्डे मे डुबने से मौत हो गयी है । डीडीए पार्क मे दिल्ली प्रशासन के कर्मचारियो ने 6 फूट का गड्डा खोदकर छोड दिया था । बारिश के पानी से भर जाने के कारण तनवीर को गड्डे का पता नही चला और वह उस गड्डे मे गिर गया जिससे उसकी मौत हो गयी ।  
     महोदय, इस सम्बंध में निवेदन/मांग है घटना के दोषियो को निलम्बित किया जाय तथा मृतक के परिवार वालो को मुआवजा उपलब्ध करायी जाय। कृपया अतिशीध्र आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करे ।  
भवदीय
डा लेनिन
(महा सचिव)
मानवाधिकार जन निगरानि समिति
एस.ए. 4 /2 ए,दौलतपुर,वाराणसी
   मोबा.न0:+91-9935599333













Tanveer

Saturday, September 3, 2011

मुरादाबाद मे किसान जाफर की गरीबी की वजह से मौत



---------- Forwarded message ----------
From: PVCHR MINORITY <minority.pvchr@gmail.com>
Date: 2011/9/3
Subject: मुरादाबाद मे किसान जाफर की गरीबी की वजह से मौत
To: jrlawnhrc@hub.nic.in
Cc: akpnhrc@yahoo.com


सेवा मे,                                                      3 सितम्बर 2011

      अध्यक्ष,

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग

   नई दिल्ली

विषय:- मुरादाबाद मे गरीबी की वजह से किसान जाफर की मौत के सम्बन्ध में

अभिनन्दन !!!

महोदय,

       मै, आपका ध्यान 1 सितम्बर 2011 की अमर उजाला की खबर 'बीमारी और कर्ज से दबे किसान ने की आत्मह्त्या ' पर आकृष्ट करना चाहता हुँ। (अखबार कतरन सलग्न).

    लेख है कि, प्रधानमंत्री के अल्पसंख्यक कल्याण के 15 सुत्रीय कार्यक्रम मे शामिल मुरादाबाद जिले मे अल्पसंख्यक किसान जाफर ने गरीबी की वजह से आत्मह्त्या कर ली।जाफर को अल्पसंख्यक कल्याण कार्यक्रम या अन्य किसी भी कल्याणकारी योजना से सहायता नही मिली।         

          महोदय, इस सम्बंध में निवेदन/मांग है कि जाफर के परिवार वालो को मुआवजा तथा कल्याणकारी योजनाओ के सही किर्यांवयन नही होने के जिम्मेदार/दोषी अधिकारियो पर कार्यवाही की जाय। कृपया ,अतिशीध्र आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करे ।  

 

                                                                                                                                    डा लेनिन

                                                                      (महा सचिव)

                                                  मानवाधिकार जन निगरानि समिति

                                                   एस.ए. 4 /2 ए,दौलतपुर,वाराणसी
                                                         मोबा.न0:+91-9935599333

                                                                                                                                    pvchr.india@gmail.com

                                                                                                                                          www.pvchr.org

                                                                                                                                          www.pvchr.net 

 

 

 

 

 

 




Thursday, September 1, 2011

Intervention of National Commission for Minority in case of police firing in Bihar

http://www.pvchr.net/2011/09/intervention-of-national-commission-for.html

Intervention in case of Phursat Hasmi

Intervention in case of Phursat Hasmi

NHRC intervention in case of communal attack on Muslim

NHRC intervention in case of communal attack on Muslim

NHRC seeks detailed report from DGP

NHRC seeks detailed report from DGP